23.4 C
New York
May 26, 2024
Nation Issue
इंदौर मध्य प्रदेश

इंदौर को सोलर सिटी बनाने के संकल्प, 300 मेगावाट सौर बिजली लक्ष्य उत्पादन का

 इंदौर .

 इंदौर को सोलर सिटी बनाने के संकल्प के साथ नगर निगम ने विजन डाक्यूमेंट प्रारूप जारी कर दिया। इसमें इमारतों की छतों पर 300 मेगावाट सौर बिजली उत्पादन का लक्ष्य तय किया गया। शहर में पहले चरण के दौरान सरकारी इमारतों की छतों पर सौर ऊर्जा संयंत्र लगाए जाएंगे। महापौर ने कहा कि इंदौर हमेशा नवाचार करता आया है। शहर को सोलर सिटी बनाने के लिए अभियान चलाया जाएगा ताकि कम खर्च में सुलभ तरीके से सौर ऊर्जा प्राप्त हो सके।

अंतरराष्ट्रीय सूर्य दिवस पर हुए आयोजन में उपस्थित शहर के प्रबुद्धजनों ने शहर को सोलर सिटी के रूप में विकसित करने को लेकर सुझाव भी रखे। इनमें सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने में लगने वाले वित्तीय संसाधनों के लिए ऋण उपलब्ध कराने, संयंत्र स्थापित करने की प्रक्रिया को सरल करने, इसके लिए एकल खिड़की सेवा प्रदान करने, घरों की छत पर सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने वालों को प्रोत्साहित करने जैसे सुझाव शामिल हैं। नगर निगम चिह्नित सुझावों को विजन डाक्यूमेंट प्रारूप में शामिल कर इसे स्वीकृति के लिए राज्य शासन को भेजेगा।

 पहला चरण : सबसे पहले सरकारी इमारतों की छतों पर सौर ऊर्जा संयंत्र लगाए जाएंगे

आयोजन में महापौर पुष्यमित्र भार्गव, सांसद शंकर लालवानी, विधायक महेंद्र हार्डिया, कलेक्टर इलैया राजा टी, निगमायुक्त हर्षिका सिंह, इंदौर विकास प्राधिकरण अध्यक्ष जयपालसिंह चावड़ा सहित उद्योग जगत से जुड़े बड़ी संख्या में लोग भी शामिल थे। स्कीम 78 स्थित ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में हुए कार्यक्रम में समूह चर्चा भी हुई। इसमें विशेषज्ञों ने इंदौर को कैसे सोलर सिटी बनाने की दिशा में आगे बढ़ाया जाए, इस विषय पर अपने विचार और सुझाव रखे।

इमारतों के 20 फीसदी हिस्से में सौर ऊर्जा संयंत्र लगेंगे

जानकारी अनुसार, फिलहाल शहर की इमारतों पर लगे सौर ऊर्जा संयंत्रों से हर साल करीब 40 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है, जिसे अगले तीन साल में बढ़ाकर 300 मेगावाट पर पहुंचाने का लक्ष्य तय किया गया है। अनुमान के मुताबिक, शहर में इमारतों की छतों का कुल क्षेत्रफल 125 लाख वर्ग मीटर है और इसके 20 फीसदी हिस्से को सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

प्रारूप में ये सुझाव होंगे शामिल

-सौर ऊर्जा संयंत्र को स्थापित करने में लगने वाले वित्तीय संसाधनों की आपूर्ति

-छत पर सोलर संयंत्र लगाने में आम नागरिकों को आने वाली समस्याओं का सरलीकरण

-सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापना में एकल खिड़की व्यवस्था लागू करना।

-सौर ऊर्जा उपयोग संबंध में आमजन में जागरूकता फैलाना

-समस्त सरकारी/अर्धसरकारी स्थानों पर सौर ऊर्जा का उपयोग करना

वर्तमान में

5.50 लाख से ज्यादा बिजली उपभोक्ता हैं

5400 घरों की छत पर ही सोलर संयत्र लगे

लक्ष्य : इन्हें बढ़ाकर एक लाख किया जाएगा

Related posts

मतदान के बाद कैलाश विजयवर्गीय ने ठोका 150 सीटें जीतने का दावा

admin

‘मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना’ अंतर्गत आयोजित ‘सामूहिक विवाह योजना’

admin

पुराने एमआर-10 ब्रिज पर बनेगा एक नया फोरलेन ब्रिज, सर्वे शुरू

admin

Leave a Comment