23.4 C
New York
May 26, 2024
Nation Issue
देश

श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने लंगरों के लिए जारी किया फूड मेन्यू, ये चीजे रहेंगी प्रतिबंधित

जम्मू

अमरनाथ यात्रा एक बहुत ही महत्वपूर्ण और धार्मिक स्थल है। उसमें भाग लेने वाले श्रद्धालुओं की सेहत और सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण है। अतः लंगर संगठनों के लिए एक न्यूट्रिशस खाने की सूची जारी किया है। श्रद्धालुओं को लंगर में सिर्फ हेल्दी भोजन परोसा जाएगा  जो उनकी सेहत के लिए अच्छा होगा। आहार में उच्च प्रोटीन, फाइबर और पौष्टिक तत्वों का समावेश होगा। अधिक मात्रा में तेल, मीठा और प्रसाद जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन करने नहीं दिया जाएगा। श्रद्धालुओं को अपनी पेट की सेहत के लिए उचित मात्रा में पानी पीने की सलाह भी दी गई है।

निर्धारित नियमों का करना होगा पालन

बता दें कि अमरनाथ यात्रा के लिए 17 अप्रैल से पंजीकरण शुरू हो गए हैं। इस बार यात्रा 30 जून से शुरू होगी और 31 अगस्त तक चलेगी। पंजीकरण ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही मोड से किया जा सकता है लेकिन यात्रा करने से पहले श्रद्धालुओं को अपनी स्वस्थता का ध्यान रखना होगा और सरकार द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करना होगा।

दरअसल, श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड द्वारा जारी की गई फूड मैन्यू में स्वस्थ व्यंजनों को शामिल किया गया है जो श्रद्धालुओं के लिए सेहतमंद होंगे। इसमें  दूध, फल, सब्जियां, दाल और चावल जैसे उत्पादों की विस्तृत सूची होगी। श्रद्धालुओं के लिए अलर्ट भी जारी किया गया है कि उन्हें स्वस्थ भोजन का सेवन करना चाहिए और तैयार भोजन का सेवन करने से बचना चाहिए। श्राइन बोर्ड ने बताया है कि वे स्वस्थ भोजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए समस्त लंगर संगठनों को अपनी खाद्य सूची में शामिल करेंगे।

फूड मैन्यू जारी

इसके अलावा, श्रद्धालुओं को अपनी सेहत के लिए खाने के साथ-साथ दूसरी बातों पर भी ध्यान देना चाहिए, जैसे कि उन्हें बर्फ के मध्य से गुजरना पड़ सकता है जो उनके स्किन को खराब कर सकता है। इसलिए श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने फूड मैन्यू जारी किया है।

    अनाज, दालें, हरी सब्जियां, आलू, साग, न्यूट्रेला सोया चंक्स), बेसन करी, सादा दाल, हरा सलाद, फल और अंकुरित अनाज, सादा चावल, जीरा चावल, खिचड़ी और न्यूट्रिला चावल, रोटी / फुल्का, दाल रोटी, मिस्सी रोटी, मक्के की रोटी (बिना तेल/मक्खन के), तंदूरी रोटी।

    ब्रेड/कुलचा/डबल रोटी, रस्क, चॉकलेट, बिस्कुट, भुने चने और गुड़, सांबर, इडली, उत्तपम, पोहा, वेजिटेबल सैंडविच (बिना क्रीम/मक्खन/पनीर के), ब्रेड जैम, कश्मीरी नान (गिर्दा) और वेजिटेबल मोमोज।

    हर्बल टी, कॉफी, लो फैट दही, शरबत, लेमन स्क्वैश/पानी, लो फैट मिल्क, फ्रूट जूस, वेजिटेबल सूप और बोतलबंद पानी शामिल है। इसके अलावा ग्लूकोज (मानक पैकेट के रूप में), खीर (चावल / साबुदाना), सफेद दलिया, अंजीर, किशमिश, खुबानी, अन्य सूखे मेवे (केवल भुने हुए / कच्चे), कम वसा वाले दूध की सेवई, शहद, उबली हुई मिठाई (कैंडी), भुना हुआ पापड़, खाखरा।

    तिल का लड्डू, ढोकला, चिक्की (गुचकी), रेवेरी, फुलियां मखाने, मुरमरा, सूखा पेठा, आंवला मुरब्बा, फल मुरब्बा और हरे नारियल जैसी खाद्य सामग्री को भी शामिल किया गया है।

इन भोजन पर पूर्ण प्रतिबंध

इस दौरान मांसाहारी भोजन, शराब, तंबाकू, गुटका समेत अन्य नशीले पदार्थ, चावल, पूड़ी, पिज्जा, बर्गर, पराठा, डोसा, तली हुई रोटी, मक्खन, आदि पूरी तरह से बैन रहेगी। इसके अलावा अचार, चटनी, तले हुए पापड़, चाउमीन, हलवा, जलेबी, मिठाई, लड्डू खोया बर्फी, कुरकुरे, चिप्स, पकौड़े, समोसे, आदि हैवी चीजों पर प्रतिबंध लगाया गया है।

Related posts

आज से कांवड़ यात्रा शुरू: प्रयागराज में की गई तैयारी पूरी…कई रूट डायवर्जन

admin

DIG ने सर्विस पिस्टल से खुद को गोली मारकर की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

admin

37 दिन से पता था तो फिर चुप्पी क्यों? मणिपुर न्यूड वीडियो के बाद महिला आयोग पर उठने लगे सवाल

admin

Leave a Comment