24.7 C
New York
July 25, 2024
Nation Issue
विदेश

रवांडा में भारी बारिश से कम से कम 109 लोगों की मौत

किगाली
 रवांडा के पश्चिमी और उत्तरी प्रांतों में पिछले दो दिनों में भारी बारिश और बाढ़ से कम से कम 109 लोगों की मौत हो गयी है। यह जानकारी स्थानीय अधिकारियों ने दी।
पश्चिमी प्रांत के गवर्नर फ्रेंकोइस हैबिटगेको ने  राष्ट्रीय प्रसारक रवांडा टेलीविजन को बताया कि मंगलवार और बुधवार के बीच प्रांत में भारी बारिश के कारण आई बाढ़ में कम से कम 95 लोग मारे गए।

उत्तरी प्रांत के गवर्नर डेंसिल न्यारारुगेरो ने भी टेलीविजन पर पुष्टि की कि उसी दिन भारी बारिश से कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई।
 हैबिटगेको ने कहा कि हम इस कठिन समय के दौरान मृतकों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं। उन्होंने कहा कि हम इस आपदा से प्रभावित लोगों को राहत और सहायता प्रदान करने के लिए स्थानीय अधिकारियों और आपातकालीन सेवाओं के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।

रवांडा मौसम विज्ञान एजेंसी द्वारा नवीनतम मौसम पूर्वानुमान ने संकेत दिया कि देश के कई हिस्सों में अपेक्षित वर्षा आमतौर पर मई में दर्ज की गई वर्षा से थोड़ी अधिक होगी।
आपातकालीन प्रबंधन के प्रभारी मंत्रालय की हालिया रिपोर्ट के अनुसार, 01 जनवरी से 20 अप्रैल के बीच देश में आपदाओं से 60 से अधिक लोग मारे गए।

सूडान की सेना सात दिन के संघर्ष विराम पर सहमत

 सूडान के दो संघर्षरत गुटों के नेता-सूडानी सशस्त्र बल (एसएएफ) प्रमुख अब्देल फतेह अल-बुरहान और अर्धसैनिक बल रैपिड सपोर्ट फोर्सेज (आरएसएफ) के प्रमुख मोहम्मद हमदान दगालो-सात दिन के युद्धविराम पर सहमत हुए हैं। वार्ता की मध्यस्थता पड़ोसी देश दक्षिण सूडान ने की थी। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, दक्षिण सूडान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता पॉलीन एडहोंग मलोक ने जुबा में एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि युद्धविराम, जिस पर राष्ट्रपति सलवा कीर ने बातचीत की थी, गुरुवार को शुरू , ताकि युद्धरत गुटों के बीच शांति वार्ता का मार्ग प्रशस्त हो सके।

मलोक ने कहा, दक्षिण सूडान गणराज्य की सरकार ने सूडान में वर्तमान में संघर्षरत दोनों पक्षों की सहमति प्राप्त कर ली है, ताकि वे अपने प्रतिनिधियों को अपनी पसंद के किसी भी स्थान पर आयोजित होने वाली शांति वार्ता के लिए नामित कर सकें। उन्होंने कहा कि कीर ने बुरहान और दगालो के साथ टेलीफोन पर बातचीत के दौरान अप्रैल के मध्य में शुरू हुए संघर्ष के लिए एक लंबे संघर्ष विराम और त्वरित समाधान की आवश्यकता पर बल दिया। दक्षिण सूडान के राष्ट्रपति सूडान में संघर्ष समाप्त करने के लिए इस मुद्दे पर बने अंतर-सरकारी प्राधिकरण (आईजीडीए) के राष्ट्राध्यक्षों की असेम्बली के प्रमुख हैं।

सूडान में संघर्ष का नया दौर जो 15 अप्रैल से शुरू हुआ था अब तीसरे सप्ताह में प्रवेश कर चुका है। फिलहाल ज्यादातर संघर्ष राजधानी खार्तूम में देखा जा रहा है। इसके कारण कई नागरिक अपना घर-बार छोड़कर मिस्र, ईथोपिया, चाड और दक्षिण सूडान तथा अन्य पड़ोसी देशों में पलायन के लिए मजबूर हुए हैं। इसके अलावा, कई देशों ने अपने नागरिकों को सूडान से निकाल लिया है। संघर्ष में फंसे लोगों के लिए भोजन, स्वच्छ पानी और दवा की कमी के बीच संयुक्त राष्ट्र ने मानवीय संकट की चेतावनी दी है। सूडान के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, घातक संघर्षों में अब तक 550 लोग मारे गए हैं और 4,926 अन्य घायल हुए हैं।

 

Related posts

भारतीयों को यूएई में काफी सम्मान के लिहाज से देखा जाता है – पाकिस्तानी यूट्यूबर

admin

Sophia Leone: 26 साल की उम्र में एडल्ट स्टार सोफिया लियोन का निधन, अपार्टमेंट में मिली थीं बेहोश

admin

थाईलैंड के ‘तानाशाह’ पीएम प्रयुत चान का राजनीति से संन्यास, 2014 में सैन्य तख्तापलट कर जमाया था कब्जा

admin

Leave a Comment