24.7 C
New York
July 24, 2024
Nation Issue
भोपाल मध्य प्रदेश

राज्य शिक्षा केंद्र प्राइवेट एजेंसी से करवाएगा स्कूलों का मूल्यांकन

भोपाल

शिक्षा विभाग पहली से 10वीं तक छात्रों के बेहतर शिक्षा विकास के लिए कवायद शुरू कर रहा है। अब तक सालभर में होने वाली परीक्षाओं से छात्रों के मूल्यांकन कर उसकी कमजोरियों को खोजता था।

अब मूल्यांकन व्यवस्था की डिजाइन, डेटा कैप्चर और बिश्लेषण ऐसा है कि छात्रों को सीखने की योग्यता की सही जानकारी नहीं दे रहा है। इसके अलावा स्कोर सिस्टम भी वैज्ञाानिक रूप से उतना बेहतर नहीं है। इसलिए 10वीं के छात्रों के मूल्यांकन को विश्वसनीय और निष्पक्ष शिक्षण मूल्यांकन प्रणाली के लिए असेसमेंट सेल बनाई जा रही है। इसके साथ ही एक निजी मूल्यांकन सेल भी बनाई जा रही है। जिसकी मॉनिटरिंग निजी एजेंसी द्वारा की जाएगी।

सेल का गठन दो साल के लिए किया जाएगा। इसमें 7 पूर्णकालिक कोर टीम सदस्य और 12 विशंषज्ञ, अल्पकालिक कार्यों के लिए रहेंगे। आरएसके विषय और मूल्यांकन विशेषज्ञों की संस्थागत क्षमता निर्माण के लिए 3-3 दिन के 15 प्रशिक्षण करवाएगा। इसमें निजी एजेंसी कोर टीम के लिए 7 सदस्य देगी, जो 12 विशेषज्ञों की नियुक्ति करेंगे।

असेसमेंट ऐसा किया जाएगा
दो साल के दौरान 12 विषय और मूल्यांकन विशेषज्ञों की मदद से 6000 आॅनलाइन मॉड्य तैयार किए जाएंगे। इन मॉड्यूल के आधाार पर 500 बच्चों का रियल टाइम टेस्ट लिया जाएगा।

जिला स्तर पर भी होगी एक टीम
अंतिम पायदान के लिए जिला स्तरीय 8 सदस्यीय कोर टीम का भी गठन किया जाएगा। इसमें सरकारी स्कूल के शिक्षक और व्याख्याता, जिला शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान या मास्टर टेÑनरया जिले के शिक्षक हो सकते हैं।

Related posts

विंध्य का समग्र विकास होगा – मुख्यमंत्री डॉ. यादव

admin

मुख्यमंत्री डॉ. यादव से फेडरेशन ऑफ तेलंगाना चेम्बर्स ऑफ कामर्स एण्ड इंडस्ट्रीज के प्रतिनिधिमंडल ने भेंट की

admin

सीएम डा. मोहन यादव ने दिए निर्देश, वीआइपी दौरे से जनता को परेशानी नहीं होनी चाहिए

admin

Leave a Comment