22.7 C
New York
July 23, 2024
Nation Issue
देश

मुंबई में BMW की टक्कर से महिला की मौत मामले में खुलासा, शिवसेना नेता का बेटा चला रहा था गाड़ी

मुंबई
मुंबई के वर्ली में तेज रफ्तार बीएमडब्ल्यू ने बाइक सवार कपल को जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में महिला की मौत हो गई। शादीशुदा जोड़ा रविवार सुबह ससून डॉक से मछली खरीदकर अपने घर लौट रहे थे। इस दौरान कोलीवाड़ा इलाके में यह दुर्घटना हुई। कार से टक्कर होते ही प्रदीप नखावा बाइक से नियंत्रण खो बैठे। वह और अधिक नुकसान से बचने के लिए तुरंत कूद गया। हालांकि, उसकी पत्नी अपने साथ भारी सामान ली हुई थी जो ऐसा कुछ नहीं कर पाई। हाई स्पीड BMW ने उसे कुचल दिया। पीड़िता कावेरी नखावा को नायर अस्पताल ले जाया गया जहां उसने दम तोड़ दिया।

रिपोर्ट के मुताबिक, हादसे के वक्त लग्जरी कार को शिवसेना नेता राजेश शाह का बेटा मिहिर शाह ड्राइव कर रहा था। बताया जा रहा है कि एक्सीडेंट के तुरंत बाद वह मौके से भाग गया था। हालांकि, कुछ समय बाद पुलिस ने उसे पकड़ लिया। वर्ली पुलिस ने कार मालिक राजेश शाह को भी हिरासत में लिया है, जो पालघर में शिवसेना (शिंदे गुट) के स्थानीय नेता हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस टीम सीसीटीवी फुटेज की जांच करने में जुटी है। इस बात की पुष्टि की जा रही है कि दुर्घटना के समय गाड़ी कौन चला रहा था।

पीड़ित प्रदीप नखावा से मिले आदित्य ठाकरे
इस बीच, शिवसेना (यूबीटी) नेता और विधायक आदित्य ठाकरे वर्ली पुलिस स्टेशन पहुंच गए। उन्होंने पीड़ित प्रदीप नखावा से मुलाकात की। मौके पर ठाकरे ने कहा कि वह घटना को राजनीतिक रंग नहीं देना चाहते हैं। उन्होंने कहा, 'मैं इसे राजनीतिक नहीं बनाना चाहता हूं। इस घटना में ड्राइवर कोई भी रहा हो, उसे गिरफ्तार किया जाना चाहिए। चाहे आरोपी 'गद्दार' गिरोह का क्यों न हो, हम इसे राजनीतिक नहीं बनाना चाहते हैं।' इस तरह आदित्य ठाकरे का इशारा राज्य के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के गुट वाली शिवसेना की ओर था, जिन्होंने कई विधायकों के साथ मिलकर शिवसेना से बगावत कर दी थी। ठाकरे ने सीसीटीवी फुटेज से जानकारी सामने आने पर जोर दिया और कहा कि मामले में त्वरित कार्रवाई होनी चाहिए।

'कोई फर्क नहीं पड़ेगा कि आरोपी किस पार्टी से'
वहीं, महाराष्ट्र के सीएम शिंदे ने मामले में कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा, 'इस बात से ​​कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह किस पार्टी से जुड़ा है। आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा।' पत्रकारों से बातचीत में शिंदे ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। उन्होंने आगे कहा, 'मैंने सुबह पुलिस कमिश्नर से बातचीत की। यह कहना चाहता हूं कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा कि वह (आरोपी) किस पार्टी से है। कार्रवाई तो की जाएगी। किसी को बख्शा नहीं जाएगा। कानून के सामने हर कोई बराबर है।'

 

Related posts

गुजरात में दशहरे से पहले कर्मचारियों को सौगात, वेतन में 30 फीसदी की बढ़ोतरी, खाते में आएगी 50 हजार तक राशि

admin

आज से दो दिनों तक बारिश और ओले गिरने की चेतावनी, बदल जायेगा मौसम

admin

दूसरे चरण मप्र की 6 लोकसभा सीटों के लिए मतदान शुरू, ईवीएम में कैद होगा 80 उम्मीदवारों का भविष्य

admin

Leave a Comment